शशिकांत निशांत शर्मा 'साहिल' कहते है बच्चें गली के क्या महत्व है साक्षरता रैली के नहीं पूछता है हमें कोई रैलियों में नहीं प्रबह्त फेरियों में नहीं कोई हमें पढ़ता नहीं कोई हमें चाहता फिर कैसे जाने हम साक्षरता क्या होती ये आकाश में उड़ती या खेतों में उगती हमें भला पूछेगा कौन? इसीलिए रहते […]

Read more of this post