शशिकांत निशांत शर्मा 'साहिल' का हुआ आगमन  गूंजने लगा घर आँगन  किलकारियों से  हर्षित हुआ मन  तृप्त हुए नयन  देखकर उस नन्ही से जान को  नए मेहमान को  तरस रहे हैं कान  सुनने को उसकी  तोतली बोली  जल्द हो सायन  हैं यही अरमान  जल्दी चले  दौड़े-खेले  हो रहा उतावला मन  याद आ गए बचपन  बचपन […]

Read more of this post